धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

गुरुवार, 13 अप्रैल 2017

भागलपुरी जर्दालु आम की खुशबू फैलेगी देश भर में

नव-बिहार न्यूज नेटवर्क,भागलपुर। जर्दालु आम भागलपुर की एक विशिष्ट पहचान है। इसलिए ब्रांडिंग के लिए देश के कोने-कोने तक आकर्षक पैक में जर्दालु आम व लीची को पहुंचाया जाएगा, ताकि इन फलों का उत्पादन करने वाले किसानों को बाजार का बेहतर मुल्य मिल सके। ये बातें बीएयू के कुलपति डॉ. अजय कुमार सिंह ने कहीं। मौका था बीएयू में फलों के विपणन एवं निर्यात में पैकेजिंग के महत्व व उससे होने वाले लाभ पर आयोजित कार्यशाला को संबोधित करने का।

इस दौरान कुलपति महोदय ने कहा कि जर्दालु आम की खुशबू देशभर में फैलने से किसानों के भी चेहरे खिलेंगे। उन्होंने कहा कि आकर्षक पैकेजिंग से फलों की गुणवत्ता प्रभावित नहीं होती है। वहीं उद्यान फल विभाग के अध्यक्ष डॉ. फिजा अहमद ने फलों के विपणन एवं निर्यात में पैकेजिंग के महत्व पर विस्तार से जानकारी दी। कार्यशाला का आयोजन बीएयू में इस्टर्न इंडिया कॉरूगेटेड बाक्स मैन्युफेक्च¨रग एसोसिएशन (ईआइसीएमए), बिहार मैंगो ग्रोवर्स फेडरेशन एवं जिला उद्यान विभाग के संयुक्त तत्वावधान में किया गया था।

ईआइसीएमए के सचिव अच्युत चंद्रा ने पावर प्वाइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से सीएफबी बाक्स के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बाक्स की विशेषता एवं गुणवत्ता व फलों की परंपरागत पैकिंग विधि के साथ तुलनात्मक विवरण भी प्रस्तुत किया। उन्होंने कहा कि हिमाचल में सेब, गुजरात में टमाटर एवं महाराष्ट्र में अल्फांसो आम को इन बक्सों में पैक किया जाता है, जो ग्राहकों तक पूरी सहजता से पहुंच रहे हैं। जिसके कारण इनके बेहतर मूल्य मिल रहे हैं। उन्होंने प्रजेंटेशन के दौरान बक्सों का सजीव प्रदर्शन भी किया। हालांकि कार्यशाला के दौरान किसानों का ध्यान उन बक्सों की कीमत पर ही टीका रहा।

सहायक निदेशक उद्यान ने कहा कि इसके लिए एसोसिएशन एवं सरकार को मिलकर काम करने की जरूरत है। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि जिला उद्यान विभाग के सहायक निदेशक विजय कुमार पंडित मौजूद थे।

कार्यशाला में बीएयू के निदेशक प्रसार शिक्षा डॉ. आरके सोहाने, रणधीर चौधरी, मिलन डे एवं नरेंद्र कुमार झुनझुनवाला सहित बड़ी संख्या में आम उत्पादक किसान एवं वैज्ञानिक भी मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।