धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

शनिवार, 29 जुलाई 2017

गुजरात कांग्रेस में मची भगदड़,40 विधायक भेजे गए बेंगलुरु

अहमदाबाद: राज्यसभा चुनाव से ठीक पहले गुजरात कांग्रेस में भगदड़ मच गयी है. इस दौरान जहां कांग्रेस से 6 विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है. वहीं गुजरात में कांग्रेस पार्टी को और टूट से बचाने के लिए 40 विधायकों को विमान से बेंगलुरु भेज दिया गया है. वहां उन्हें एक रिजॉर्ट में राज्यसभा चुनाव के पहले तक रखा जाएगा.

कांग्रेस के 31 विधायक देर इंडिगो की फ्लाइट से अहमदाबाद से बेंगलुरु पहुंचे. वहीं, राजकोट से 9 विधायक भी बेंगलुरु के लिए निकल पड़े हैं जो सुबह पहुंचेंगे. कांग्रेस के एक एमएलए के मुताबिक कांग्रेस को तोड़ने के अपने गेम प्लान में बीजेपी सफल न हो पाए, इसके लिए पार्टी के विधायकों को बेंगलुरु भेजा जा रहा है. विधायक ने कहा कि कांग्रेस के विधायकों को बीजेपी पैसे और पुलिसिया दबाव आदि के द्वारा तोड़ने का प्रयास कर रही है.

गुजरात के विधानसभा में कुल 182 सीट हैं, जिसमें से 121 बीजेपी और निर्दलीय विधायक हैं, जबकि कांग्रेस के 57 विधायक थे. एनसीपी के 2, जेडीयू और जीपीपी का एक-एक विधायक हैं. इस स्थिति में राज्यसभा की एक सीट के लिए कम से कम 46 वोट चाहिए होते हैं. लेकिन अब स्थिति बदली है, क्योंकि 6 विधायक इस्तीफा दे चुके हैं तो कुल संख्या 176 हो गई है. इसलिए जीतने के लिए सिर्फ 45 वोट ही चाहिए.

गुरुवार को शामिल हुए थे 3 विधायक

कांग्रेस के तीन विधायकों ने गुरुवार को गुजरात विधानसभा के अध्यक्ष रमनलाल वोरा को इस्तीफा सौंप दिया था. पहले दो इस्तीफे एक साथ हुए जिसमें बलवंत सिंह राजपूत और तेजश्री पटेल के नाम थे. इसके बाद गुरुवार शाम करीब पांच बजे गुजरात कांग्रेस के विधायक पीआई पटेल ने भी इस्तीफा दे दिया.

अहमद पटेल की सदस्यता खतरे में!

गुजरात कांग्रेस के कई  विधायकों के एक साथ बीजेपी में शामिल होने के साथ ही अहमद पटेल की राज्यसभा सदस्यता को लेकर खतरा बढ़ गया है. शंकर सिंह वाघेला समर्थक विधायकों की संख्या 16 बताई जा रही है. ऐसे में अगर ये सभी 16 विधायक इस्तीफा देते हैं तो अहमद पटेल के लिए चुनाव जीतना मुश्किल हो जाएगा. पटेल ने राज्यसभा के लिए कांग्रेस के उम्मीदवार के रूप में नामांकन भर रखा है. शंकर सिंह वाघेला के बाद कांग्रेस को बड़ा झटका उस समय लगा, जब बलवंत सिंह, तेजश्री पटेल और पीआई पटेल ने भी पार्टी छोड़कर बीजेपी ज्वाइन कर लिया. राज्यसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के विधायकों के बीजेपी में शामिल होने से अहमद पटेल का जीतना मुश्किल हो सकता है. वहीं, कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी खरीद-फरोख्त की राजनीति कर रही है. मालूम हो कि आठ अगस्त को गुजरात में राज्यसभा की तीन सीटों के लिए मतदान होना है.

राजनीतिक पंडितों का कहना है कि कांग्रेस के विधायकों के बीजेपी में शामिल होने से राज्यसभा चुनाव में पार्टी की मुसीबत बढ़ सकती है. इससे पहले राष्ट्रपति चुनाव में 11 कांग्रेस विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की थी. हालांकि इसमें क्रॉस वोटिंग तो नहीं होगी, लेकिन राज्यसभा चुनाव से पहले कई कांग्रेस विधायक इस्तीफा देकर बीजेपी जरूर ज्वाइन कर सकते हैं. मालूम हो कि गुजरात से राज्यसभा के लिए तीन सीटों पर चुनाव होने हैं.

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।