धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

सोमवार, 31 जुलाई 2017

बोल बम के नारों से गुलजार हुआ सुलतानगंज: उमड़ा कांवरियों का सैलाब

सुलतानगंज से शिव शंकर सिंह पारिजात
श्रावण मास के चौथे रविवार को हजारों की संख्या में कांवरिया तीर्थयात्री सुलतानगंज की उत्तर वाहिनी गंगा से अपने कांवरों में पवित्र जल भरकर देवघर और वैद्यनाथ धाम को रवाना हुए.

रविवार सवेरे से ही बड़ी संख्या में यहां हजारों भक्तों का आवागमन जारी हो गया और पूरा सुलतानगंज तीर्थ-क्षेत्र केसरिया वस्त्र धारी शिवभक्तों से पट-सा गया. विभिन्न गंगा-घाटों पर कांवरियों ने स्नान कर अपने जल पात्रों में जल भरे व पूजन-अर्चन कर अजगैबी महादेव के दर्शन के पश्चात हर-हर महादेव और बोल बम का नारा लगाते हुए देवघर के लिये रवाना हुए. पुरे श्रावण मास में प्रतिदिन देश के कोने-कोने से एवं विदेशों से लाखों की संख्या में सुलतानगंज आनेवाले भक्त यहां से गंगाजल भरकर नियम-निष्ठापूर्वक 105 किमी की यात्रा पांव-पैदल पूरी कर अपनी मनोकामनाओं  की पूर्ति हेतु इसे देवघर में वैद्यनाथ द्वादश ज्योतिर्लिंग पर अर्पित करते हैं. रविवार को तल्ख गर्मी के कारण जहां लोगों के हाल बेहाल थे, वहीं कांवरियां भक्तों के उत्साह परवान पर थे. माता बम के जयकारों के साथ आज यहां से कृष्णा बम भी देवघर के लिये रवाना हुई.  प्रशासन की चाक-चौबंद व्यवस्था के बीच कांवरियों के काफिले बढ़ते जा रहे थे.
सुलतानगंज घाट पर अपने यजमानों के संकल्प कराने में व्यस्त पंडा प्रभाकर मिश्र ने बताया कि आज रविवार होने के कारण डाक कांवरियें बड़ी तायदाद में आये हुए हैं ताकि सोमवारी को जलार्पण कर सकें. जहां सामान्य कांवरियां तीन-चार दिनों में देवघर जाते हैं, वहीं डाक कावरियां सुलतानगंज में जल उठाने के बाद चौबीस घंटे के अंदर दौड़ते हुए वैद्यनाथ धाम जाकर बाबा पर जल अर्पित करते हैं.
कावरियों की सुरक्षा में दिन-रात मुस्तैद हैं एसडीआरएफ के जवान. इस वर्ष गंगा के जल-स्तर में बढ़ोत्तरी के कारण सुलतानगंज के अधिकांशतः कच्चे घाटों पर फिसलन के कारण
कांवरियां तीर्थयात्रियों के डूबने की आशंका बनी रहती है क्योंकि महिलाओं और बच्चों की  बड़ी संख्या रहती है. प्रशासन ने सुरक्षा के दृष्टिगत जहां सुरक्षा नौकाओं व तैराकों-गोताखोरों की व्यवस्था की है, वहीं राज्य सरकार ने एसडीआरएफ की टीम की सुलतानगंज में प्रतिनियुक्ति की है.
एनडीआरएफ के सब इंस्पेक्टर बलिराम प्रसाद ने बताया कि यहां 24 जवान व दो मोटर बोट गंगा में निरंतर निगरानी करते हुए चौबीसों घंटों मुस्तैदी से लगे हैं और अभीतक यहां पर कोई अप्रिय घटना नहीं घटी है. बीते दिन जब एक युवक सुरक्षा घेरा से आगे बढ़कर स्नान करने के कारण फिसलकर डूबने को था, तो एनडीआरएफ के एक जवान ने पेट्रोलिंग बोट से कूदकर उसकी जान बचाई. सब इंस्पेक्टर श्री साह ने यात्रियों से नहाते समय सावधानी बरतने व बच्चों, युवकों तथा महिलाओं पर विशेष ध्यान रखने की अपील की है.

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।