धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

शनिवार, 22 जुलाई 2017

खास खबर: कल तक की एयर होस्टेस है आज के राष्ट्रपति की बेटी



राजेश कानोडिया। एयर इंडिया की एयर होस्टेस स्वाति भी आज एक खास मिशाल बन गयी है। जिसे पूरी तरह से सेल्फ मेड लेडी कहा जा सकता है। जिसकी जानकारी दुनियां को भले ही अब मिल रही है कि कल तक की एयर होस्टेस स्वाति आज के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की बेटी है।

भले ही एयर इंडिया के दिन आज कल अच्छे न चल रहे हो, लेकिन राष्ट्रपति चुनाव में रामनाथ कोविंद की जीत के बाद पूरी एयरलाइन में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की बेटी स्वाति एयरइंडिया में एयर होस्टेस हैं जबकि उनके साले सी शेखर फ्लाइट के सुपरवाइजर पद से रिटायर हो चुके हैं।

शेखर एयरइंडिया कैबिन क्रू एसोसिएशन के उपाध्यक्ष रह चुके हैं। एयरलाइन के सूत्रों की माने तो स्वाति ने कभी अपना सरनेम इस्तेमाल नहीं किया। स्वाति बोइंग 777 और 787 एयरक्राफ्ट में एयर होस्टेस है। यह हवाई जहाज ऑस्ट्रेलिया, यूरोप और अमेरिका जैसे लंबी दूरी के सफर पर उड़ान भरता है।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि स्वाति सबसे अच्छे क्रू सदस्यों में से एक हैं। वह एक राजनीतिक परिवार से आती हैं, इसके बावजूद भी कभी उन्होंने किसी पर दबाव नहीं बनाया और न ही कभी अपने रिश्तों का गलत इस्तेमाल किया। 

सूत्रों के मुताबिक स्वाति ने कुछ दिनों पहले छूट्टी के लिए एप्लीकेशन दिया था, लेकिन उन्होंने उसमें इस कारण का जिक्र नहीं किया कि वह अपने पिता के राष्ट्रपति चुनाव में शामिल होने के कारण छूट्टी ले रही हैं। उन्होंने कभी अपने सरनेम का इस्तेमाल नहीं किया। उनकी रिकॉर्ड में मां का नाम सविता दिया गया है जबकि पिता का नाम आरएन कोविंद है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।