धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

शुक्रवार, 28 जुलाई 2017

छपरा में लालू समर्थकों ने कलेक्टर को पीटा, महिला SP ने भागकर बचाई जान


छपरा: महागठबंध टूटने के एक दिन बाद लालू प्रसाद यादव की पार्टी आरजेडी के समर्थकों ने उनके गढ़ छपरा में जाम लगा दिया। इसे खुलवाने के लिए गए कलेक्टर और महिला एसपी पर हमला कर दिया। कलेक्टर पर लाठी से हमला किया गया। महिला एसपी और कलेक्टर को बमुश्किल पुलिस ने बचाया। खबर लिखे जाने तक इलाके में काफी फोर्स तैनात कर थी। जाम खुलवाने की कोशिशें जारी थीं। क्या है मामला...

- बता दें कि बुधवार रात नीतीश कुमार ने इस्तीफा दे दिया दिया था। आरजेडी-जेडीयू और कांग्रेस का महागठबंधन टूट गया था। आरजेडी के समर्थक इससे भड़के हुए थे।
- गुरुवार सुबह इन्होंने छपरा जिले के पहलेजा के पास जेपी सेतु तक जाने वाली सड़क को जाम कर दिया। लालू समर्थक काफी तादाद में थे। इनके पास लाठियां भी थीं।
- सूचना मिलने पर दोपहर में छपरा कलेक्टर हरिहर प्रसाद और एसपी अनुसुइया रणसिंह कुछ फोर्स लेकर मौके पर पहुंचे।

डीएम और एसपी पर पथराव
- कलेक्टर हरिहर प्रसाद ने कहा, “जाम कर रहे लोग काफी उग्र थे। हमारी गाड़ी जैसे ही पहुंची लोग पथराव करने लगे। हमारे साथ पर्याप्त पुलिस बल नहीं था। लोगों को समझाने के लिए मैं गाड़ी से उतरकर उनके पास गया, लेकिन वहां कोई सुनने को तैयार न था।”
- “मैं जैसे ही उनके पास गया वे मुझ पर हमला करने लगे। मुझे बांस (लाठी) से मारा गया। पुलिस ने मुझे किसी तरह बचाया। जान बचाने के लिए मैं अपनी गाड़ी में सवार होकर वहां से चला आया।

ज्यादा फोर्स मौके पर
- डीएम और एसपी पर हुए हमले के बाद मौके पर कई थानों की पुलिस को तैनात किया गया।
- खबर लिखे जाने तक इलाके में काफी तनाव था। काफी पुलिस फोर्स तैनात की गई है। जाम खुलवाने की कोशिशें जारी हैं।

लालू का गढ़ है छपरा
- छपरा को लालू यादव का गढ़ कहा जाता है। 2004 और 2009 के लोकसभा चुनाव में लालू यादव यहां से चुनाव लड़े थे और उन्हें बड़ी जीत मिली थी।
- 2014 के चुनाव में लालू के बदले राबड़ी देवी मैदान में उतरीं, लेकिन उन्हें बीजेपी के राजीव प्रताप रूडी के हाथों हार का सामना करना पड़ा।
- लोकसभा चुनाव में हार के बाद भी छपरा में लालू की पैठ कम नहीं हुई। छपरा के 10 विधायकों में से 6 राजद के हैं। जेडीयू-कांग्रेस का एक-एक विधायक है। इस जिले में यादवों की तादाद ज्यादा है।

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।