धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

शनिवार, 12 अगस्त 2017

अस्पताल में ऑक्सीजन सप्लाई बंद होने से हुई 63 मासूमों की मौत, गुस्से में लालू

नव-बिहार न्यूज नेटवर्क, गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर बीआरडी मेडिकल कॉलेज में मरने वाले मासूमों की संख्या 63 पहुंच गई है. इस दर्दनाक घटना के बाद से जहां यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार पर सवाल उठने लगे हैं. वहीं बिहार से राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने भी योगी सरकार को निशाने पर लिया है.

 दर्दनाक घटना के बाद लालू प्रसाद ने ट्विटर पर लिखा है कि गोरखपुर में हुए इस हादसे में जिन मासूमों की मौत हुई है उस पर मैं दिल से आहत हूं. उन्होंने आगे लिखा है कि इस घटना की जिम्मेदार योगी सरकार है. ये हादसा योगी सरकार में स्वास्थ्य विभाग की अनदेखी की वजह से हुआ. दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए.

बताया जा रहा है कि हृदयविदारक घटना गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में आॅक्सीजन सप्लाई ठप होने की वजह से हुई. कुछ 63 बच्चों की जिंदगियां चली गई. घटना से अस्पताल ही नहीं, गोरखपुर समेत पूरे पूर्वांचल में कोहराम मच गया है. परिजनों के आंसू रुक नहीं रहे हैं.
मालूम हो कि इंसेफ़्लाइटिस के मरीजों के लिए बने 100 बेड के आइसीयू सहित दूसरे आइसीयू व वार्डों में आॅक्सीजन सप्लाई ठप कर दी गयी थी.

सूत्रों की मानें तो अस्पताल में आॅक्सीजन सप्‍लाई करने वाले गुजरात की फर्म पुष्पा सेल्स का 69 लाख रुपये बाकी था. फार्म का दावा है कि इसके लिये करीब 100 बार चिट्ठी भेजने पर भी पेमेंट नहीं हुई। ऐसे में 1 अगस्त को चेतावनी दी थी. इसके चलते फर्म ने अस्‍पताल में लिक्विड ऑक्‍सीजन की आपूर्ति बंद कर दी थी, जिससे यह बड़ी घटना हुई है.गौरतलब हो कि इस हादसे के बाद से यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ की सरकार पर बड़े सवाल उठने लगे हैं. विपक्ष सीधा योगी आदित्यनाथ को टारगेट कर रहा है. इधर बिहार में भी इस मामले पर सियासत तेज हो गई है.

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।