धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

गुरुवार, 17 अगस्त 2017

बाढ़ की विभीषिका: असम के बाद कटिहार का संपर्क बंगाल से भी कटा, रेलयात्री परेशान

नव-बिहार न्यूज नेटवर्क (NNN): बाढ़ की लगातार बढ़ रही विभीषिका के कारण कटिहार से असम के संपर्क टूटने के बाद आज गुरुवार की सुबह कटिहार-मालदा रेलखण्ड के मनिया स्टेशन के निकट रेल पुल बह जाने से कटिहार से पश्चिम बंगाल का भी सम्पर्क पूरी तरह से कट गया है. उधर कटिहार—प्राणपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर भी पानी का दबाव बना हुआ है. मनिया के समीप राष्ट्रीय राजमार्ग पर करीब एक फिट पानी बह रहा है. शाम तक इस मार्ग के भी बंद होने की संभावना जताई जा रही है.

प्रशासन की ओर से जिले  में फिलहाल 90 राहत केंद्र खोले गये हैं. अभी भी कई राहत केंद्रों पर अनिश्चितता का माहौल बना हुआ है. धीरे—धीरे लोग बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से निकलकर राहत केंद्रों तक पहुँच रहे हैं. कई राहत केंद्रों पर किसी भी तरह की भोजन—पानी और मेडिकल की व्यवस्था नही होने से लोगों मे काफी आक्रोश भी है. अब तक कटिहार जिले के करीब 13 प्रखंड के 160 से अधिक पंचायतें बाढ़ से प्रभावित हो चुकी हैं. प्रभावित क्षेत्रों का सड़क मार्ग और रेलमार्ग से सम्पर्क पूरी तरह से टूट चुका है. इस कारण प्रभावित क्षेत्रों में राहत पहुंचाना काफी मुशिकल और जोखिम भरा हो गया है.

 

इधर कटिहार-गुवाहाटी, कटिहार-बारसोई और कटिहार-जोगबनी रेल मार्ग भी फिलहाल तीन दिनों से पूरी तरह से बन्द रहने से हजारों रेल यात्री कटिहार समेत अन्य स्टेशनों पर फंसे हुए हैं. वैसे कटिहार स्टेशन पर भी रेल विभाग एवम अन्य सामाजिक संगठनों की मदद से राहत कार्य चलाए जा रहा है. गुरूवार को कैपिटल एक्सप्रेस तथा कटिहार-पटना इंटरसिटी एक्सप्रेस को छोड़कर सभी गाड़ियों का परिचालन रद्द कर दिया गया है. मनिहारी तथा अमदाबाद प्रखंड मे भी कई पंचायत में बाढ से आमजन परेशान हो रहे हैं.

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।