धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

रविवार, 20 अगस्त 2017

हे प्रभु… अब बिहार में ट्रेन हुई बेपटरी, घंटों परिचालन हुआ बाधित


नव-बिहार न्यूज नेटवर्क (NNN): अभी यूपी के ट्रेन हादसे का दर्द पूरा देश झेल ही रहा है. ट्रेन डिरेल का अभी 24 घंटा भी नहीं हुआ था कि एक और ट्रेन डिरेल हो गयी. मामला बिहार के लखीसराय जिले का है. घटना की जानकारी मिलते ही रेलवे के अधिकारियों में हड़कंप मच गया. वहीं पटना-भागलपुर रेलखंड पर इसे लेकर काफी देर तक परिचालन बाधित रहा.

सूत्रों के अनुसार यह गनीमत रही कि मालगाड़ी थी. वरना एक अनहोनी बिहार में भी हो जाती है. फिर तो रेलवे के अधिकारियों के पास रोने के अलावा कोई विकल्प नहीं रहता. सूत्रों की मानें तो इस मामले को लेकर रेलवे के अधिकारी अलर्ट हो गये हैं. रेलवे का कहना है कि जांच हो रही है.

जानकारी के अनुसार लखीसराय जिले में किऊल स्‍टेशन के निकट एक मालगाड़ी डिरेल हो गयी. बताया जाता है कि किऊल स्टेशन के सेंटिंग लाइन ट्रैक पर एक खाली मालगाड़ी यार्ड में जा रही थी. इसी क्रम में बोगी ट्रैक से नीचे उतर गयी. उसके आठों चक्के बेपटरी हो गये. जानकारी के अनुसार मालगाड़ी बाढ़ में कोयला अनलोड कर वापस किऊल आ रही थी. वहीं मालगाड़ी की बोगी के बेपटरी होने से डाउन लाइन पर ट्रेनों का परिचालन काफी देर तक बाधित रहा.

गौरतलब है कि कल शाम में यूपी के मुजफ्फरनगर में उत्कल एक्सप्रेस बुरी तरह दुर्घटनाग्रस्त हो गयी. इसमें कई डिब्बों के परखचे उड़ गये. वहीं घटना में दो दर्जन से अधिक लोग जख्मी हो गये. हादसे में 100 से अधिक लोग जख्मी भी हैं. घटना की शुरुआती जांच में रेलवे की लापरवाही ही सामने आ रही है. इससे पूरा देश मर्माहत है.

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।