धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

शुक्रवार, 11 अगस्त 2017

DM मुकेश पांडेय के ससुराल में सन्नाटा, मारुति शो रूम से लेकर मकान तक नहीं मिला कोई

पटना : बक्सर के डीएम और डाकबंगला स्थित वाउज़ मारुति शो रूम के मालिक राकेश सिंह के दामाद आईएएस मुकेश पाण्डेय की दुखद मौत की सूचना के बाद से पटना में उनके ससुराल छज्जू बाग स्थित अवकाश रेसिडेंशियल के फ्लैट नम्बर 402 से लेकर मारुति शो रूम तक सन्नाटा पसरा हुआ है. 

फ्लैट में मिले राकेश प्रसाद सिंह के घरेलू सहायक के मुताबिक पूरा परिवार गुरुवार रात को ही यहां से चला गया है. हालांकि उसने मुकेश पाण्डेय की आत्महत्या के संबंध में जानकारी नहीं होने की बात कही. इसी तरह उनके मंदिरी स्थित घर शशि निकेतन पर भी परिवार का कोई सदस्य नहीं मिला.  
लगभग डेढ़ वर्ष से मरम्मत का कार्य हो रहे शशि निकेतन के गार्ड ने भी मुकेश पाण्डेय की असामयिक मौत के बारे में किसी तरह की जानकारी होने से इनकार किया है. इसी तरह मारुति शो रूम के कर्मियों ने भी मुकेश पाण्डेय की आत्महत्या की खबर सुनकर उसपर विश्वास करने से ही मना कर दिया. हालांकि यकीन आने के बाद सभी ने काफी दुख और अफसोस ज़ाहिर किया. 
अवकाश रेसिडेंशियल के गार्ड ने तो यहां तक कहा  कि इतने पढ़े लिखे व्यक्ति आत्महत्या कैसे कर सकते हैं. राकेश सिंह के घरेलू सहायक के मुताबिक गुरुवार रात को ही आनन फानन में सीएम मुकेश पाण्डेय की पत्नी आयुषी और ससुर राकेश सिंह समेत परिवार के सभी सदस्य यहां से कहीं गए हैं, जिसकी जानकारी उसे नहीं है.
बता दें कि  2012 में मुकेश पांडेय IAS बने थे. इसके बाद उनकी शादी बहुत ही धूमधाम से पटना के मौर्या होटल में संपन्न हुई थी. मुकेश पांडेय के ससुर राकेश कुमार सिंह पटना के जानेमाने कारोबारी हैं. Vau’s ऑटोमोबाइल के नाम से पटना में उनकी मारुती की ऑटोमोबाइल एजेंसी है. राकेश कुमार सिंह बाढ़ के रहने वाले हैं. उनके पिता शशिभूषण प्रसाद सिंह की भी बड़ी ख्याति रही है.
जानकार कहते हैं कि शादी तो बहुत धूमधाम से हुई थी. लेकिन वैवाहिक जीवन सुखी नहीं था. कुछ ही वर्षों में रिश्तों में बहुत खटास आ गई थी. रिश्ते के बारे में करीब से जाननेवाले यह भी कह रहे हैं कि शादी के बाद भी मुकेश की पत्नी बहुत दिनों तक साथ नहीं रही. बेटी की परेशानी को कम करने के लिए राकेश सिंह लंबे अरसे तक बेटी को अपने कारोबार में व्यस्त रखते थे.

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।