धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

शुक्रवार, 1 सितंबर 2017

सृजन महाघोटाला: सीबीआई ने इशाकचक थानाध्यक्ष से पूछा- कहां रहते हैं? कहा- जरूरत पड़ने पर उपलब्ध रहेंगे

जिलाधिकारी कार्यालय से बाहर निकलती सीबीआइ टीम के सदस्य.

भागलपुर : एएसपी एस मलिक के नेतृत्व में सीबीआइ अधिकारियों की टीम जिलाधिकारी से मिलने के बाद इशाकचक थाना पहुंची. सीबीआइ अधिकारियों सृजन मामले में दर्ज की गयी प्राथमिकी और जब्ती सूची को खंगाला. अधिकारियों ने इशाकचक इंस्पेक्टर और सृजन मामले में दर्ज हुई शुरुआती प्राथमिकी के आइओ राम इकबाल यादव को जब्ती सूची में एक जगह गलती भी बतायी. अधिकारी ने उन्हें उसे सही करने के लिए कहा. इसके बाद सीबीआइ अधिकारी ने इंस्पेक्टर से पूछा कि वे कहां रहते हैं. इंस्पेक्टर ने बताया कि वह थाना परिसर में ही रहते हैं. इंस्पेक्टर से जरूरत पड़ने पर उपलब्ध रहने के लिए कहा गया है. इशाकचक थाना से निकलने के बाद सीबीआइ अधिकारी एसएसपी आवास पहुंचे. वहां एसएसपी से कैंप कार्यालय और आवास के लिए जगह के बारे में बात करने के बाद वे सबौर स्थित गेस्ट हाउस पहुंच गये.

भागलपुर में बेस कैंप कार्यालय बनाना चाहती है सीबीआइ की टीम

इससे पहले सृजन घोटाले की जांच करने आयी सीबीआइ की टीम भागलपुर में बेस कैंप कार्यालय बनाना चाहती है. हालांकि, सृजन घोटाले की सुनवाई पटना स्थित सीबीआइ की विशेष अदालत में होगी. सीबीआई टीम के सदस्य गुरुवार को भागलपुर के जिलाधिकारी से भी मुलाकात कर बेस कैंप कार्यालय को लेकर जगह देने की बात की. इस बेस कैंप कार्यालय से ही सीबीआई की टीम जांच संबंधी अपनी गतिविधि संचालित करेगी. साथ ही सृजन घोटाले से संबंधित कई जानकारियां हासिल की. करीब आधे घंटे से अधिक समय तक भागलपुर के जिलाधिकारी आदेश तितरमारे से मुलाकात करने के बाद सीबीआइ टीम के सदस्य इशाकचक थाना गये. 

पुलिस अधिकारी की मांग पर एसएसपी ने मुख्यालय को लिखा पत्र

सीबीआइ अधिकारियों द्वारा इधर-उधर जाने-आने और सहयोग के लिए पुलिस की टीम की मांग की गयी है. उनके द्वारा पुलिस अधिकारियों की मांग को लेकर एसएसपी मनोज कुमार ने पुलिस मुख्यालय को पत्र लिखा है. उन्होंने मुख्यालय से पुलिस अधिकारी उपलब्ध कराने का आग्रह किया है. फिलहाल सीबीआइ की टीम को पुलिस की सुरक्षा उपलब्ध करायी गयी है. सीबीआइ अधिकारियों के लिए कैंप कार्यालय और आवास की सुरक्षा को लेकर पुलिस मुख्यालय ने जिलों के अधिकारियों को पत्र लिखा है. पुलिस महानिरीक्षक के सहायक (क्यू) ने अधिकारियों को पत्र लिखा है.

इंडियन बैंक ने को-ऑपरेटिव बैंक व नजारत शाखा से घोटाले की राशि का मांगा हिसाब

इधर, महालेखाकार व वित्त विभाग की विशेष अंकेक्षण टीम द्वारा घोटाले से जुड़े विभागों की ऑडिट जारी है. ऑडिट के हफ्ता भर से अधिक तक चलने की संभावना है. अवैध निकासी को लेकर इंडियन बैंक ने द भागलपुर सेंट्रल को-ऑपरेटिव बैंक व नजारत शाखा को पत्र लिखा है. इस पत्र में दोनों विभागों से अवैध निकासी की कुल राशि का ब्योरा मांगा है. जिलाधिकारी आदेश तितरमारे ने सृजन महिला विकास सहयोग समिति के सभी पदधारकों के बारे में लीड बैंक मैनेजर को निर्देश दिया कि विभन्नि बैंकों में सृजन समिति के सदस्यों का ब्योरा एकत्र करें. 

बांका सृजन घोटाले की जांच में जुटी सीबीआइ

बांका में सृजन घोटाले की जांच सीबीआइ ने अपने हाथ में ले लिया है. जानकारी के मुताबिक, विगत 20 अगस्त को 83.10 करोड़ घोटाले को लेकर दर्ज प्राथमिकी की जांच सीबीआइ ने शुरू कर दी है. सूत्र की मानें तो एसआइटी ने पूरी जांच रिपोर्ट सीबीआइ को सुपुर्द कर दी है. वहीं दूसरी प्राथमिकी की जांच अबतक पुलिस प्रशासन के पास ही है. बताया जाता है कि सीबीआइ जांच रिपोर्ट का अध्ययन कर बांका का रुख भी कर सकती है. इस दरम्यान भू-अर्जन कार्यालय के साथ ही सहकारिता बैंक को भी खंगाला जा सकता है.

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।