धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

शनिवार, 23 सितंबर 2017

नवगछिया: परवत्ता पुलिस के कारनामे को कोर्ट ने किया उजागर, पूछा स्पष्टीकरण, एसपी सहित डीआईजी और आईजी को भेजी सूचना

नव-बिहार समाचार (नस), नवगछिया / भागलपुर : नवगछिया पुलिस की एक और खासी कारगुजारी नवगछिया के एक कोर्ट के सामने आई है। पिछले दिनों गंगा नदी के
उत्तरी छोर स्थित टोल टैक्स वसूली प्वाइंट पर लूट के मामले में आरोपित पक्ष (झारखंड पुलिस) को फायदा पहुंचाने के लिए परवत्ता पुलिस ने चोरी की धारा लगा दी। लेकिन पुलिस की यह चालाकी नवगछिया कोर्ट में मामले की सुनवाई के दौरान शुक्रवार को पकड़ ली गई।
व्यवहार न्यायालय नवगछिया के अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी तृतीय संतोष कुमार गुप्ता की अदालत ने इस मामले में थानाध्यक्ष शिव कुमार यादव से स्पष्टीकरण भी मांगा है। संतोषजनक जबाव नहीं मिलने पर विभागीय कार्रवाई के लिए एसपी पंकज सिन्हा भागलपुर प्रक्षेत्र के आइजी सुशील मान सिंह खोपड़े व डीआइजी विकास वैभव को पत्र लिखा है।
कर्मचारी ने परबत्ता थाने में दर्ज कराई थी प्राथमिकी : विक्रमशिला सेतु उत्तरी छोर स्थित टोल टैक्स वसूली प्वाइंट के कर्मचारी दयालपुर निवासी रोहित कुमार के बयान पर परबत्ता थाने में एक मामला दर्ज कराया था। इसमें झारखंड के जामताड़ा जिले के फतेहपुर थाना क्षेत्र के बनसय निवासी झारखंड पुलिस के जवान अमित कुमार यादव व रांची के आदर्श नगर निवासी जवान संजय कुमार को आरोपित किया था। कहा था कि जाह्न्वी चौक पर टोल नाका पर वह अपने दोस्त के साथ ड्यूटी पर था। सड़क पर वाहनों की लंबी लाइन लगी थी। इसी बीच स्कार्पियो सवार झारखंड पुलिस के दो वर्दीधारी जवान आए और गाली-गलौज करते हुए कहा कि जाम क्यों लगाते हो। इसके बाद दोनों जवान काउंटर पर आकर स्टाप जगतपुर निवासी विनोद यादव व सिकंदर यादव के साथ मारपीट करने लगे। इसमें दोनों कर्मचारी जख्मी हो गए। इस दौरान जवानों ने काउंटर से रुपये व कुछ सामान भी लूट लिए। इसके बाद भाग निकले। जवानों को विक्रमशिला सेतु के दक्षिण साइड पर रोका गया। वहां पुलिस ने दोनों के पास से लूट के रुपये व सामान बरामद किए। दोनों के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी कांड संख्या 84-17 में पुलिस ने धारा 341, 323, 504, 448, 379-34 भारतीय दंड विधान लगाया गया। इसमें लूट की धारा ही नहीं है। कांड के अनुसंधानकर्ता एएसआइ सतीश प्रसाद मंडल को बनाया गया है।
न्यायालय की टिप्पणी
अदालत ने परबत्ता पुलिस के क्रियाकलाप पर टिप्पणी करते हुए कहा कि झारखंड पुलिस द्वारा टोल प्लाजा के कर्मचारियों के साथ मारपीट करते हुए रुपये की लूट की गई थी। लेकिन प्राथमिकी में लूट की धारा लगाने की बजाय चोरी की धारा 379 भादवि लगाकर आरोपित जवानों की मदद का प्रयास किया गया है। जबकि मामला स्पष्ट रूप से लूट का है। पुलिस घटना की लीपापोती कर रही है।

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।