धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

शुक्रवार, 8 सितंबर 2017

बिहार के SUPER-30 वाले आनंद कुमार ने KBC में जीते 25 लाख

नव-बिहार न्यूज नेटवर्क(NNN) : आज बिहार के किस गांव के बच्चे सुपर 30 ग्रुप को नहीं जानते. इसी ग्रुप के संस्थापक और संचालक हैं आनंद कुमार. जिन्हें बिहार के लोग प्रतिभा से लकदक और छात्रों की तकदीर बदलने वाले शिक्षक के रूप में जानते हैं. उनके सुपर—30 ग्रुप की सफलता के बारे में कौन नहीं जानता है. IIT की प्रवेश परीक्षा में 396 छात्रों को दाखिला दिलवा चुके आनंद कुमार शुक्रवार को महानायक अमिताभ बच्चन के साथ केबीसी में खेल रहे थे. सैकड़ों छात्रों की तकदीर बदलने वाले शिक्षक का नाम आनंद कुमार है. आनंद कुमार शुक्रवार को महानायक अमिताभ बच्चन के साथ केबीसी में खेल रहे थे. एपिसोड शुक्रवार की रात 9 बजे सोनी टीवी पर प्रसारित किया गया. उन्होंने हॉटसीट पर 25 लाख रुपए जीतने के बाद खेल को समाप्त कर दिया. उन्होंने कुल सात सवालों के जवाब दिए. इस दौरान सुपर-30 में पढ़ चुके आईआईटी छात्र अनिरुद्ध सिन्हा, अनूप कुमार, मनीष रंजन ने भी उनका सहयोग किया.

बता दें कि शिक्षा में उनके योगदान को देखते हुए आनंद को एक सेलिब्रिटी तौर पर आमंत्रित किया गया था. आनंद कुमार ने इस दौरान पढ़ाई के टिप्स भी साझा किए. अमिताभ बच्चन ने आनंद से पूछा कि सुपर 30 की स्थापना की प्रेरणा कैसे मिली और कैसे उन्होंने वंचित वर्गों के छात्रों के लिए मंच तैयार किया. आनंद कुमार से जो सवाल पूछे गए उनमें, गांधी जी का आश्रम किस नदी के किनारे स्थित है?

टाटा का पहला बिजनेस कौन था? सोनी की टीम शूट के लिए आनंद कुमार के घर पर भी गई थी. आनंद कुमार ने अपने फेसबुक पेज पर इस बारे में जानकारी देते हुए एक फोटो शेयर की है. उन्होंने लिखा है कि सदी के नायक अमिताभ बच्चन जी को मैं कैसे धन्यवाद दूं, ये मेरे लिए तय कर पाना मुश्किल हो रहा है. जिस तरह से उन्होंने “कौन बनेगा करोड़पति” में बतौर अतिथि मुझे बुलाया और सम्मान दिया, सच में मेरे लिए एक बहुत बड़ी बात थी.

अपने अनुभव के बारे में आनंद कुमार ने बताया कि उनसे बात हो रही थी और खेल चल रहा था. सवालों का दौर चल रहा था. मैं जीतता जा रहा था और कहीं रुकता तब मेरे स्टूडेंट्स मुझे आगे बढ़ा देते. इस दौरान एक-दो बार आनंद कुमार सवालों का जबाव देने में फंसे. तब उनकी मदद उनके ही एक छात्र ने की थी. आनंद कुमार ने अपने संघर्ष के बारे में भी बताया कि पिता के असमय निधन के बाद उन्होंने बड़ा कठिन दौर देखा है. उन्होंने गलियों में जाकर अपने बड़े भाई के साथ आनंद पापड़ भी बेचे हैं. उनकी मां पापड़ बनाती थीं जिसे वह गलियों में बेचते थे. वह चाहते हैं कि जो दिन उन्होंने अपनी जिन्दगी में देखे वह कोई और स्टूडेंट न देखे. बता दें कि शिक्षक आनंद कुमार की बायोपिक भी बन रही है, जिसमें रितिक रोशन लीड रोल में हैं.

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।