धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

रविवार, 15 अक्तूबर 2017

नवगछिया में दादा-पोते को ज़िंदा जलाया, कारण जान हो जायेंगे हैरान

डायन कहकर हुआ था विवाद
सोये अवस्था में पेट्रोल डाल लगा दी आग
दादा और पोता दोनों की हुई मौत
घटना नगर पंचायत नवगछिया क्षेत्र के वार्ड नंबर दो की
वार्ड पार्षद पर भी घटना को अंजाम देने का है आरोप

नव-बिहार न्यूज नेटवर्क, नवगछिया। बिहार के पुलिस जिला नवगछिया में एक दिल दहला देने वाली घटना को अंजाम दिया गया है। घटना इस पुलिस जिला अंतर्गत आदर्श थाना क्षेत्र के नगर पंचायत के वार्ड नंबर दो के श्रीपुर गांव की है जहां एक वृद्ध महिला पर डायन होने का आरोप लगाकर गांव के ही दबंगों ने उसके 55 वर्षीय पति चंद्रदेव सिंह और चार वर्षीय पोते संजीव कुमार पर पेट्रोल या केरोसिन छिड़ककर जिंदा जला दिया। 
गंभीर हालत में दोनों को इलाज के लिए जेएलएनएमसीएच भागलपुर में भेजा गया। जहां इलाज के क्रम में पोते संजीव कुमार सिंह की मौत हो गई है। चंद्रदेव सिंह की हालत भी चिंताजनक बनी हुई थी, जिसकी भी बाद में मौत हो जाने की सूचना है। घटना के वक्त दादा-पोते घर के बाहर सोए हुए थे।  घटना के बाद सभी आरोपित फरार हैं।
चार दिनों पूर्व ही दी थी जिंदा जलाने की धमकी 
बच्चे के पिता अमृत सिंह ने पुलिस को दिए अपने बयान में बताया है कि चार दिन पहले उसकी मां बिंदु देवी पर वार्ड के ही वार्ड पार्षद माहिल सिंह, उसके चाचा गणेश सिंह और गणेश सिंह की पत्नी उषा देवी ने डायन होने का आरोप लगा परिवार समेत जिंदा जला देने की धमकी दी थी। 
इसी धमकी के बाद आरोपितों ने मेरे पिता और मासूम बेटे पर सोते समय पेट्रोल या केरोसिन छिड़क कर आग के हवाले कर दिया। दोनों की चीख सुन और आग की लपटें देखकर हमलोग घर के बाहर आए। देखा कि दोनों आग में धू-धूकर जल रहे थे। तब तक ग्रामीणों की भीड़ भी जुट गई।
आनन-फानन सभी ने पानी और बालू छिड़क कर दोनों के शरीर पर लगी आग को बुझाया। इसके बाद दोनों को जख्मी अवस्था में इलाज के लिए नवगछिया अनुमंडल अस्पताल लेकर पहुंचे। दोनों की गंभीर हालत देख चिकित्सकों ने बेहतर इलाज के लिए भागलपुर रेफर कर दिया। वहां इलाज के दौरान मेरे बेटे संजीव कुमार की मौत हो गई। 
इस मामले में आदर्श थाना नवगछिया के थानाध्यक्ष संजय कुमार सुधांशु के अनुसार मिली सूचना पर श्रीपुर गांव गए थे। पीडि़त परिजन और आसपास के लोगों से पूछताछ में पता चला कि कुछ दिनों पूर्व आरोपितों ने पीडि़त परिवार की एक महिला पर डायन होने का आरोप लगाकर उनसे विवाद किया था। अभी तक घायल चंद्रदेव सिंह का बयान नहीं आया है। घायल का बयान आने के बाद प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। पुलिस गंभीरता से घटना की तफ्तीश कर रही है। इधर पुलिस ने दो को हिरासत में लिया है, जिससे पूछताछ जारी है।

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।