धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

रविवार, 19 नवंबर 2017

देखें फोटो फीचर: भारत की मानुषी छिल्लर बनी विश्व सुंदरी 2017

राजेश कानोडिया, नव-बिहार समाचार। भारत के हरियाणा राज्य से बहादुरगढ़ की बेटी मानुषी छिल्लर ने विश्व सुंदरी 2017 का खिताब जीत कर
आज भारत को फिर से गर्व करने का एक और मौका दिया है। जिसे इससे 17 साल पहले प्रियंका चोपड़ा ने वर्ष 2000 में दिया था।
बीस वर्षीय मानुषी छिल्लर के पिता मित्र बसु पेशे से डॉक्टर हैं। मानुषी भी खानपुर मेडिकल कालेज में एमबीबीएस की द्वितीय वर्ष की छात्रा है। जो पढ़ाई के साथ साथ फैशन की दुनियां में भी अपना जलवा बिखेर चुकी है।
चीन में आयोजित मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता में दुनियां भर की 117 सुंदरियों को पीछे छोड़ कर मानुषी छिल्लर ने विश्व सुंदरी 2017 का खिताब जीत लिया। नव-बिहार समाचार की तरफ से मानुषी को ढ़ेर सारी शुभकामनाएं। हमें ही नहीं देश को आप पर गर्व है।

मिस हरियाणा रह चुकी मानुषी ने इसी साल जून में मिस इंडिया और मिस फोटोजेनिक का अवार्ड भी जीता है। मिस वर्ल्ड में जाने से पहले वह समाज सेवा से जुड़ी रही हैं । उन्होंने माहवारी के दौरान हाइजीन से संबंधित एक कैंपेन में करीब 5000 महिलाओं को जागरुक किया है । मिस इंडिया चुने जाने से पहले एक इंटरव्यू में मानुषी ने कहा था कि मेरी आदर्श रीता फारिया है, हालांकि मैं मेडिकल स्टूडेंट हूं पर मेरा कभी कोई प्लान भी नहीं रहा। मैं जीवन में कोई अफसोस नहीं रखना चाहती। इसलिए यह खिताब जीतना चाहती हूं। मेरा लक्ष्य हमेशा से मिस वर्ल्ड बनना है।

 भारत से अब तक मिस वर्ल्ड 
1966 में रीता फारिया 
1994 में ऐश्वर्या राय 
1997 में डायना हेडन 
1999 में युक्ता मुखी 
2000 में प्रियंका चोपड़ा 
और अब 
2017 में मानुषी छिल्लर।

दो मिस यूनिवर्स 
1994 में सुष्मिता सेन और 2000 में लारा दत्ता बनी थी।

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।