धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

बुधवार, 8 नवंबर 2017

सनातन धर्म कभी मिट नहीं सकता- स्वामी आगमानंद जी महाराज

नव-बिहार समाचार, बौंसी। सनातन धर्म विराट हिन्दू धर्म है, जिसकी जड़ को खोद कर कुछ लोग सुखाने की चेष्टा करते हैं। सनातन धर्म की स्थापना के मूल में कोई व्यक्ति नहीं बल्कि स्वयं प्रभु भगवान ब्रह्मा जी हैं इसलिए यह धर्म अक्षय और अच्छुन्न है, यह कभी मिट नहीं सकता। ये बातें संत महात्मा एवं वनवासी सम्मेलन में उपस्थित धर्म प्रेमियों को अपने उद्बोधन में परमहंस स्वामी आगमानंद जी महाराज ने कही।

उन्होंने यह भी कहा कि राष्ट्र भक्त धर्म प्रेमियों के माध्यम से पंचदिवसीय इस पांच लाख इक्यावन हजार रुद्राक्ष महाभिषेक यज्ञ के पावन कार्य समस्त जनमानस के कल्याण कारी हो। मुगलों ने और ईसाईयों ने लोगों को कभी पकड़कर जबरन तो कभी कोई लोभ लालच छल छद्म से धर्म परिवर्तन कराने का काम किया, प्रयास किया और आज भी किया जा रहा है । मंदरांचल क्षेत्र में प्रथम बार हो रहे इस पावन कार्य की पुनरावृति होते रहे और समिति के सदस्य इस कार्य को अन्य जगह पर भी करावे हम साथ हैं। यह भलजोड़ की पावन भूमि है, जिसका अर्थ भल-यानि भला करना और जोड़- मतलब जोड़ना है। जिसे भला के लिए जोड़ना कहा जा सकता है। इसलिए इस प्रकार का आयोजन बार बार हो जो सत्य सनातन संस्कृति की परम्पराओं का रक्षा करने का काम आए।

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।