धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

रविवार, 24 दिसंबर 2017

भागलपुर: सृजन महाघोटाले में फंसा एक आइएएस अधिकारी हुआ निलंबित

नव-बिहार समाचार, भागलपुर/ सहरसा। भागलपुर के सृजन महाघोटाले की जांच की आंच अब सहरसा तक पहुंच गयी। इस जांच में तत्कालीन विशेष भू-अर्जन पदाधिकारी पर कार्रवाई की गाज भी गिरी है। इस मामले में सृजन संस्था को मदद करने के आरोप में तत्कालीन विशेष भू-अर्जन पदाधिकारी कृष्ण कुमार को विभाग ने निलंबित कर दिया है। निलंबन की पुष्टि वर्तमान विशेष भू-अर्जन पदाधिकारी राजकुमार गुप्ता ने की है।

जानकारी के अनुसार, कोसी योजना विशेष भू-अर्जन शाखा सहरसा में नवगछिया के त्रिमुहानी प्रोजेक्ट में भू-अर्जन के लिए 162 करोड़ 92 लाख 49 हजार 924 रुपये आया था। तत्कालीन विशेष भू-अर्जन पदाधिकारी कृष्ण कुमार द्वारा यह राशि 28 मार्च 2012 से 29 जुलाई के बीच भागलपुर के सृजन नामक स्वयंसेवी संस्था के बैंक ऑफ बड़ोदा के खाते में हस्तांतरित कर दी गयी।

वर्ष 2015 में तत्कालीन विशेष भू-अर्जन पदाधिकारी द्वारा इस बाबत जिलाधिकारी को पत्र लिखा गया। इसके बाद जब विभाग ने मामले की तहकीकात शुरू की तो संस्था द्वारा राशि विभाग के खाते में लौटा दी गयी। हालांकि इस दौरान इस राशि का सूद नहीं लौटाया गया। बाद में वर्तमान जिलाधिकारी के निर्देश पर इस मामले में सदर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी। बाद में इस मामले में सीबीआई ने जांच शुरू की।

जब इस मामले की सीबीआइ ने जांच शुरू की तो सहरसा में अस्थायी कैंप बनाया गया। इस कैंप में सीबीआइ की नोटिस के बाद दो बार कृष्ण कुमार हाजिर हुए थे। विभाग ने इस मामले में उनसे स्पष्टीकरण पूछा था। तत्कालीन अधिकारी के जवाब से विभाग संतुष्ट नहीं था। हाल ही में बिहार प्रशासनिक सेवा से प्रोन्नत करते हुए उन्हें आइएएस रैंक मिला था। हालांकि फिलहाल वह सचिवालय में पदस्थापित हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।