धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

मंगलवार, 12 दिसंबर 2017

भागलपुर: अफसरों को भी टॉयलेट में पानी नसीब नहीं, यहां पीएम मोदी की महत्‍वाकांक्षी योजना कैसे तोड़ रही है दम, पढ़िए


भागलपुर का सरकारी संयुक्त भवन।

गिरधारी लाल जोशी, भागलपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी योजना ‘स्मार्ट सिटी परियोजना’ का भागलपुर में ऐसा हाल है, मानो योजना कागजों पर ही दम तोड़ देगी। शहरी विकास मंत्रालय अगले साल जनवरी में देश के विभिन्न राज्यों के 10 शहरों को स्मार्ट सिटी बनाने की सूची में शामिल करने वाला है। ऐसे में यह जानना जरूरी हो जाता है कि डेढ़ साल से ज्यादा समय से पहले घोषित शहरों का क्या हाल है? लेकिन यह जानने की कोशिश पता नहीं क्यों नहीं हो रही है। भागलपुर ‘स्मार्ट सिटी परियोजना’ की पहली सूची में घोषित शहरों में से एक है। भागलपुर का सरकारी संयुक्त भवन पीने के पानी को तरस रहा है। शहर का हाल बेहाल है और लोगों को बुनियादी सुविधाएं भी नहीं मिल पा रही हैं।

इस संवाददाता ने सोमवार को संयुक्त भवन के सूचना व जनसंपर्क विभाग के डिप्टी डायरेक्टर के दफ्तर समेत कई अन्य विभागों के दफ्तरों का मुआयना किया। आप यह जानकर हैरान हो सकते हैं कि यहां काम करने वाले कर्मचारी और अधिकारी दोनों ही पानी खरीद कर पीते हैं। शौचालय में पानी बोतल में लेकर जाते हैं। साफ है कि सरकारी तौर पर यहां पीने या इस्तेमाल के पानी का कोई इंतजाम नहीं है। आलम ये है कि डर से कोई बोलता भी नहीं है। लेकिन नाम न छापने की शर्त पर इस बात को सभी कबूलते हैं कि यहां बुनियादी सुविधाओं का भी अभाव है। हमें बड़े अधिकारियों का डर जो है।

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।