धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

रविवार, 31 दिसंबर 2017

राम के नाम में भी परमाण्विक शक्ति समाहित है- स्वामी आगमानंद

राजेश कानोडिया, नव-बिहार समाचार, भागलपुर। आज के उस परमाणु युग में राम के नाम में भी परमाण्विक शक्ति समाहित है। जिसका वर्णन गोस्वामी तुलसीदास जी द्वारा रचित रामचरित मानस के लंका कांड में ‘लव निमेष परमाणु युग’ कहा गया है। यह उस समय कहा था, जब डाल्टन का जन्म भी नहीं हुआ था। अतः गोस्वामी जी को परमाणु का पूरा ज्ञान था। उन्होंने विविध शास्त्रों से यह प्राप्त किया था।उपरोक्त जानकारी परमहंस स्वामी आगमानंद जी महाराज ने शनिवार की देर शाम भागलपुर के घंटाघर स्थित शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय परिसर में मानस सद्भावना सत्संग समिति द्वारा आयोजित राम कथा यज्ञ जे दौरान दी।

इसकी विस्तार से व्याख्या करते हुए उन्होंने कहा कि राम नाम में परमाणु शक्ति है । राम के र अक्षर में इलेक्ट्रॉन, आ में प्रोटॉन है और म में न्यूट्रॉन की शक्ति समाहित है। अतः जिस प्रकार से आज परमाणु ऊर्जा का उपयोग विविध प्रकार से किया जा रहा है। ठीक उसी प्रकार से राम नाम में जो अशीम शक्ति है उसका उपयोग हम आज विविध रूपों में कर सकते हैं।

राम नाम की शक्ति का अगली जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि 'बंदऊ नाम राम रघुवर को’। हेतु कृशानु भानु हिमकर को”। राम के र शब्द में अग्नि है, जो पापों को जलाती है और आ शब्द आदित्य अर्थात सूर्य के लिए है जो प्रकाश देता है और जीवन के अन्धकार को दूर करता है और आत्म प्रकाश देता है तथा म शब्द में चंद्रमा है जो शीतलता, मधुरता और अमृत प्रदान करता है।

इसी प्रकार से उन्होंने राम की शक्ति का कई प्रकार से व्याख्यान कर इस राम नाम की शक्ति की अदभुत जानकारियां दीं । कार्यक्रम में पंडित रघुनंदन ठाकुर, पुनीत पाठक एवं भरत दास जैसे विद्वानों ने अपने आशीर्वचन से मंच को सुशोभित किया और श्रोताओं को इस ज्ञान की गंगा में गोता लगाते रहे ।

कार्यक्रम में मुख्य रुप से समिति के प्रधान संरक्षक दिवाकर चंद्र दुबे, अध्यक्ष मृत्युंजय प्रसाद सिंह, महामंत्री विजय कुमार सिंह, सचिव विनोद कुमार सिंह, संयुक्त सचिव संदीप कुमार सिंह, रणधीर सिंह, अशोक पोद्दार, कोषाध्यक्ष अमरेंद्र कुमार सिन्हा, संयोजक हरि किशोर सिंह कर्ण, प्रवक्ता महेश राय, रोशन सिंह, पुजारी पंडित अरुण कुमार शुक्ला, रत्नाकर झा, संगीत प्रभारी सुश्री सुष्मिता, सौरव मिश्रा, राजाराम राय, सुनील चटर्जी, राजाराम मुखिया, रघुनंदन ठाकुर, प्रणव दास, कैप्टन समीक्षा सिंह, पिंकू चौबे, मधुलता सिंह, सुनीता सिंह आदि उपस्थित रहे। वहीं कार्यक्रम का संचालन नवीन कुमार ने किया। इस आशय की जानकारी रोशन सिंह,  प्रवक्ता मानस सत्संग सद्भावना समिति भागलपुर ने दी।

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।