धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

शनिवार, 27 जनवरी 2018

विक्रमशिला सेतु पर दिन में नहीं चलेंगे भारी वाहन

 भागलपुर  : विक्रमशिला सेतु पर दो महीने तक दोपहर 11 बजे से तीन बजे तक 10 टन से ज्यादा भारी वाहनों के परिचालन पर पूरी तरह से रोक रहेगी.
मुंबई की कार्य एजेंसी रोहरा रीबिल्ड ने विक्रमशिला पुल के गंगा नदी के बीच पिलरों के बॉल-बेयरिंग बदलने का काम गुरुवार से शुरू करा दिया है. सेतु के इस हिस्से का स्पैन सबसे बड़ा और खतरनाक भी है. कार्य एजेंसी को एक स्पैन का बॉल-बेयरिंग बदलने में छह दिन लगेंगे. इस जोन में 10 स्पैन हैं.
जहां 60 दिनों तक काम चलता रहेगा. कार्य स्थल पर ट्रैफिक व्यवस्था वन वे रहेगी.

भारी वाहनों को नवगछिया व सबौर रोड पर ही रोक दिया जायेगा. पुल निर्माण निगम कार्य प्रमंडल, खगड़िया की मांग पर पुलिस प्रशासन से भारी वाहनों के परिचालन पर पूरी तरह से रोक लगाने की मंजूरी मिली है. बता दें कि रखरखाव कार्य के लिए अब लगभग पांच माह ही शेष रह गया है. कार्य एजेंसी का दावा है कि बरसात से पहले मरम्मत का काम पूरा हो जायेगा और परिचालन से संबंधित कोई समस्या नहीं रहेगी. 

गुरुवार को बॉल-बेयरिंग बदलने के लिए 120 मीटर लंबे स्पैन को जब जैक पर उठाया गया, तो स्पैन एक-दूसरे के समानांतर में नहीं रहा. सड़क तकरीबन 40 एमएम ऊंची हो गयी. यह सेतु का सबसे लंबा स्पेन है. बॉल-बेयरिंग बदलने के लिए दोपहर 11 बजे से तीन बजे तक भारी वाहनों के परिचालन पर पूरी तरह से रोक लगी रही. भारी वाहनों को नवगछिया व सबौर मार्ग पर ही रोक दिया गया. वहीं कार्य स्थल पर वन वे ट्रैफिक व्यवस्था रही. इसके चलते जाम लगता और छूटता रहा. दोपहर तीन  बजे के बाद ही ट्रैफिक व्यवस्था सुचारु हो सकी.

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।