धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

गुरुवार, 8 मार्च 2018

आधार कार्ड को ले सुप्रीम कोर्ट ने दिया यह बड़ा फैसला

आधार कार्ड को ले सुप्रीम कोर्ट ने दिया यह बड़ा फैसला
नव-बिहार न्यूज नेटवर्क (NNN), नईदिल्ली। आधार कार्ड की अनिवार्यता को लेकर सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ ने नया आदेश जारी किया है। जिसके तहत
सीबीएसई की किसी भी परीक्षा को देने के लिए पहचान पत्र के रूप में अब आधार कार्ड अनिवार्य नहीं होगा। कोर्ट ने कहा है कि अब आधार की जगह आप वोटर आइ कार्ड, बैक पासबुक, पासपोर्ट और ड्राइविंग लाइसेंस का इस्तेमाल कर सकेंगे।
मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पांच न्यायाधीश की संविधान पीठ ने सीबीएसई को अपनी वेबसाइट पर यह जानकारी अपलोड करने का निर्देश दिया।
एमबीबीएस और बीडीएस के लिए सीबीएसई 2018 का मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंचा था और इस मामले में सुनवाई करते हुए कोर्ट ने यह आदेश दिया है। सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर परीक्षा के लिए आवेदन में आधार को अनिवार्य करने के फैसले को चुनौती दी गई थी।
याचिका में कहा गया था कि जब सुप्रीम कोर्ट मामले की सुनवाई कर रहा है तो आधार को टेस्ट के आवेदन के लिए कैसे अनिवार्य बनाया जा सकता है? बता दें कि एमबीबीएस और बीडीेएस के सीबीएसई नीट 2018 में आवेदन की अंतिम तारीख 9 मार्च है। ऐसे में आवेदन के लिए कुछ ही दिन शेष बचे हैं। लिहाजा आधार की अनिवार्यता के खिलाफ कल ही मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा और कोर्ट ने एेसा आदेश दिया।
कोर्ट के इस फैसले से बिहार में मेडिकल की परीक्षा देने के लिए फार्म भरने वाले छात्रों के बीच खुशी देखी जा रही है। जो छात्र आधार की अनिवार्यता की वजह से फॉर्म भरने में असमर्थ हैं, उनके लिए ये बड़ी बात है। पटना के बोरिंग रोड स्थित हिंद बुक स्टोर के मालिक प्रमोद ने बताया कि मेरे पास कई छात्र आते थे जिनका अभी तक आधार किसी वजह से नहीं बन पाया था, उनके लिए ये राहत की खबर है।
मेडिकल की तैयारी कर रहे आकाश इंस्टीच्यूट के छात्र मनीष ने बताया कि एेसा आदेश देकर कोर्ट ने हम जैसे छात्रों को राहत दी है। वहीं रजनीश कश्यप ने कहा कि ये फैसला छात्रों के हक में है।

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।