धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

गुरुवार, 6 सितंबर 2018

भागलपुर: थानेदार के रिश्तेदार की भी बाइक चेकिंग, हाई वोल्टेज ड्रामा के बाद भरना पड़ा जुर्माना

भागलपुर। कोतवाली थाने की महिला दारोगा ज्ञान भारती पुलिस जवानों के साथ बाइक चेकिंग कर रही थी। तभी बिना हेलमेट एक बाइक सवार को जवानों ने रोक लिया। फिर क्या था, उस युवक ने पुलिस को ही धौंस दिखानी शुरू कर दी। उसने फोन किया तो कुछ देर बाद एक महिला तमतमाती हुई मौके पर पहुंची। उसने आते ही अपना परिचय सन्हौला थानेदार नीरज कुमार सिंह की पत्नी के रूप में दिया और हंगामा शुरू कर पुलिस वालों को धौंस दिखाया। ‘सैंय्या भए कोतवाल, अब डर काहे का’ यही कहावत बुधवार को कोतवाली इलाके के घंटाघर के पास चरितार्थ हुई।

मांगने लगी सभी पुलिस वालों से आइकार्ड

जब थानेदार की पत्‍‌नी मौके पर पहुंची तो उसने आते ही पहले बाइक चेकिंग कर रहे वर्दी वाले पुलिस वालों से आइकार्ड मांगा। इस हंगामे के कारण पुलिस वाले कुछ समझ नहीं पा रहे थे। महिला को देख आसपास के लोग जमा हो गए। करीब एक घंटे तक वहां हाईवोल्टेज ड्रामा चला। मगर दारोगा ज्ञान भारती भी अपनी बात पर अड़ी रहीं। महिला ने दारोगा को भी धौंस दिखा दिया।

थानेदार के रिश्तेदार की भी बाइक चेक होती है क्या

कोतवाली पुलिस के समझ आते ही थानेदार की पत्नी ने उन लोगों से पूछना शुरू किया कि क्या थानेदार के रिश्तेदार की भी बाइक चेक होती है। इस पर दारोगा ने कहा कि उन लोगों को वरीय अधिकारियों के निर्देश पर सभी की बाइक चेक करनी है। इस बात पर महिला और और उखड़ गई। मामला बढ़ता देख दारोगा ने थानेदार की पत्‍‌नी और उसके रिश्तेदार को थाने चलने को कहा। कोतवाली थाने में इंस्पेक्टर सह थानेदार केदारनाथ सिंह ने हंगामा शांत कराया। थानेदार के रिश्तेदार को फाइन भरने के बाद ही छोड़ा गया।


कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।