धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

रविवार, 12 जनवरी 2020

एक गांव ऐसा जहां मुर्दे से पूछी जाती है उनकी जाति, वाइरल विडियो ने उज़ागर की जात-पात का ज़हर घोल रहे गांव की हक़ीक़त


रेवाड़ी (हरियाणा)।  कहते हैं कि मौत के आने के बाद सब कुछ समाप्त हो जाता है। लेकिन क्या मुर्दो की भी कोई जात होती है। जी हां होती है, यह हम नहीं कह रहे बल्कि बुड़ौली गांव की श्मशान घाट में दाह संस्कार करने के लिए बने खाने और ऊपर लगे टैग देखकर  बिल्कुल कहा जा सकता है कि मुर्दों की भी जात होती है।

दरअसल जो वीडियो वायरल हुआ है वह गांव बुड़ौली का है। यहाँ हाल ही में श्मशान घाट में टीन शेड डलाई गई थी उसमें सरपंच के फरमान के बाद यह टैग लगा दिया कि किस जाति के मुर्दे का संस्कार किस खाने में किया जाएगा। एक शख़्स इस गांव में अपने परिचित के अंतिम संस्कार में शामिल होने आया था।

उसका ध्यान इस और चला गया उसने तुरंत इसका वीडियो बनाया और वायरल कर दिया। जैसे ही यह वीडियो हमारे पास पहुंचा तो हमने गांव के सरपंच के पास फोन किया जब तक हम पहुंचते सरपंच को अपनी गलती का एहसास हो चुका था।  और उसने आनन-फानन में श्मशान घाट में लगाएं गए सभी  टैगों तो हटा दिया गया।

लेकिन खाने आज भी मौजूद है जो इस बात के गवाह हैं कि मुर्दों की भी जात होती है। जो जिस जात का मुर्दा होगा वह उसी खाने में जलाया जाएगा।

सौजन्य
ग्राम समाचार

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।