धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

सोमवार, 10 फ़रवरी 2020

संत की कोई जाति नहीं होती हैं: साध्वी

नव-बिहार समाचार, नवगछिया। संत गुरु रविदास की 643वीं जयंती के उपलक्ष्य पर अनुमंडल के पहाड़पुर बड़ी पैकान्त ग्राम में रविवार की सुबह रविदास सामाज के सैकड़ों लोगों द्वारा प्रभात फेरी कराई गई।ततपश्चात जन्मोत्सव व सत्संग का आयोजन किया गया। मुख्य प्रवचन कर्ता बरूण साहेब ने कहा कि सन्तमत में ढलना ही मानवता हैं। वही मौके पर कटिहार से आयी हुई छवि झा व भक्ति भारद्वाज ने संयुक्त रूप से कहा कि मीराबाई संत गुरु रविदास के जरिये ईश्वर को पा लिये, अर्थात संत के बिना ईश्वर की प्राप्ति नहीं हो सकती हैं। मुख्य अतिथि सन ऑफ रैदासा व छात्र जदयू  के प्रदेश सचिव अजय रविदास ने कहा कि संत रविदास घोर गरीबी को झेलते हुए, रोज एक जोड़ी जूता दान किया करते थे। सच्चे रोजगार कर्ता यही पहचान हैं।
विशिष्ट अतिथि छात्र जदयू के नवगछिया जिला अध्यक्ष नवीन निच्छल, भवानीपुर पंसस रमेश कुमार, जे पी कॉलेज छात्र जदयू अध्यक्ष अजित कुमार मंच संचालन किया। कार्यक्रम का उद्घाटन अजय रविदास, नवीन निच्छल, रमेश, यमुना दास, भूषि दास सरपंच ने फीता काटकर कर किया। 
स्वागत गीत उच्च माध्यमिक विद्यालय  व जे पी कॉलेज नारायणपुर के छात्रा क्रांति कुमारी, शांति कुमारी, अनिता कुमारी ने गाई। मौके पर नीलेश रविदास, दीपक रविदास, सुमन रजक, पूनम सिंह, खोको दास, गनौरी दास, कृति नारायण दास, अशोक, चितरंजन , चंदशेखर दास, शंकर दास, संजीव, पिंटू, दिलकश, सुमित, सुबोध, दिलीप, शैलेश, सुलोचना देवी, पिंकी देवी, सैकड़ों लोगों मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।