धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

शुक्रवार, 8 मई 2020

औरंगाबाद रेल हादसा: पटरी पर पसरी पड़ी थी रोटियां और बिखरे थे सामान


नव-बिहार समाचार। कोरोना वायरस और लॉकडाउन के बीच महाराष्ट्र के औरंगाबाद की रेल लाइन में भी शांति ही रहती है, लेकिन शुक्रवार की सुबह काफी हलचल थी। पटरी के आसपास खड़े लोग और हाथों में मोबाइल से उस खौफनाक मंजर को शूट कर रहे थे। जो सुबह-सुबह यहां घटा था। रेल की इस पटरी पर 15 मजदूरों के शव कटे पड़े थे। ये शव उन मजदूरों के थे जो बेचारे अपने घर जाने के लिए निकले थे। लेकिन अब कभी अपनी मंजिल पर नहीं पहुंच जाएंगे। रेल की पटरी पर बिखरी रोटियां और सामान यह बताता है कि वे लोग रास्ते में भूख से न मर जाएं इसकी तो तैयारी करके निकले थे। लेकिन उस रात उनके साथ क्या होनेवाला है यह नहीं जानते थे।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, ये 18 मजदूर महाराष्ट्र की एक स्टील फैक्ट्री में काम करते थे। लॉकडाउन की वजह से काम बंद था। शायद इन्होंने सोचा होगा ऐसे में घर ही चले जाएं। लॉकडाउन में यातायात के साधन बंद हैं और इन्हें औरंगाबाद रेलवे स्टेशन पहुंचना था। ये सभी मजदूर मध्य प्रदेश के बताए जा रहे हैं। मध्य प्रदेश के लिए औरंगाबाद से ट्रेन चल रही थी। इसलिए पटरी-पटरी स्टेशन के लिए निकल पड़े। खबरों के मुताबिक, ये लोग जालना से औरंगाबाद पैदल जा रहे थे। दोनों के आपस की दूरी कुल 60 किलोमीटर है।

कोरोना वायरस लॉकडाउन के बीच ट्रेनें तो चल नहीं रही। हो सकता पैदल चलते वक्त इन लोगों को कोई ट्रेन मिली भी न हो। ऐसे में रात में थककर इन्होंने पटरी पर ही बिस्तर लगा लिया। यही इनकी सबसे बड़ी भूल साबित हुई। सुबह-सुबह वहां से एक माल गाड़ी गुजरी और इन्हें मौत की नींद सुला गई।

पटरी के पास का सुबह का मंजर डरानेवाला था। पटरी पर हर तरफ लाशें पड़ी थीं। पटरी पर ही इन लोगों का सामान और रोटियां बिखरी थीं जो ये लोग सफर के लिए लाए होंगे। आसपास के लोग दूर से ही वीडियोज बना रहे थे। इतने भयानक मंजर के पास जाने की कोई हिम्मत नहीं कर पा रहा था। हालांकि मौके पर रेलवे के अधिकारी, एसपी सभी वरीय अधिकारियों ने स्थिति का जायजा लिया। इस घटना में घायलों को नजदीक के अस्पताल में भर्ती भी कराया गया था।


कोई टिप्पणी नहीं:

CURRENT NEWS

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।